Tuesday, August 10, 2010

तुम ही बोलो क्या क्या लिख दूं ?


दिल कहता है ये भी लिख दूं 

दिल कहता है वो भी लिख दूं l

इस कागज़ के इक टुकड़े पर

तुम ही बोलो क्या क्या लिख दूं l

बस तुम पढ़ती या मै पढता

तो पूंछो मत क्या क्या लिखता l

पर पढ़ना है इस दुनिया को

किन हांथों से कितना लिख दूं l
................

ये अश्क स्याह हो जाने दो

ये वादा है हर बात लिखूंगा ,

तुम बोलोगी जब दिन तो दिन

तुम चाहोगी तो रात लिखूंगा l

तुम उतरी हो जब से दिल में

उस हर पल का एहसास लिखूंगा ,

था दूर दूर जीना तो क्या

ये दिल था कितने पास लिखूंगा l

मैं आँखों में अपनी भरकर

वो तेरे सारे ख्वाब लिखूंगा ,

कजरारी प्यारी आँखों में 


मोती पाले हैं आप लिखूंगा l

हैं बिखरी शबनम गालों पे

हर तन्हाई की रात लिखूंगा ,

ये होंठ गुलाबी हँस दें तो

मै सावन की बरसात लिखूंगा l

तुम काँधे पर सर रख देना

मैं जुल्फों का एहसास लिखूंगा ,

तुम सिमटी रहना बांहों में

मै धड़कन की आवाज़ लिखूंगा l

चाँद चांदनी का क्या करना

हम तुम और वो रात लिखूंगा ,

लिखना और बहुत कुछ भी है

मै तेरी हर सौगात लिखूंगा l

रातें गुजरेंगी बातों में

मै रोज़ नया इतिहास लिखूंगा ,

ये अश्क स्याह हो जाने दो

ये वादा है हर बात लिखूंगा l

तुम बोलोगी जब दिन तो दिन

तुम चाहोगी तो रात लिखूंगा ll 


राज़

17 comments:

  1. Raj jee....

    Yeh ashq syaah ho jane do,
    wada hai har bat likhunga....
    aur aapne wada nibhaya bhi hai , bahut umdaa.

    ReplyDelete
  2. जो भी लिखा है...बढिया लिखा है
    http://merajawab.blogspot.com
    http://kalamband.blogspot.com

    ReplyDelete
  3. नए हिंदी ब्लाग के लिए बधाइयाँ और स्वागत। उत्तम लेखन है… लिखते रहिए। अन्य ब्लागोँ पर भी जाइए जिनमें मेरे ब्लाग भी हैं…

    ReplyDelete
  4. कुछ पढने को मिला....बहुत अच्छा लगा.....मुझे जानकारी नहीं थी इस ब्लॉग कि...आगे भी आना लगा रहेगा.....क्यों कि वास्तव में कुछ अच्छा पढने को मिला जिसे पढ़ कर मन को सुकून मिला.

    ReplyDelete
  5. ब्‍लागजगत पर आपका स्‍वागत है ।

    किसी भी तरह की तकनीकिक जानकारी के लिये अंतरजाल ब्‍लाग के स्‍वामी अंकुर जी, हिन्‍दी टेक ब्‍लाग के मालिक नवीन जी और ई गुरू राजीव जी से संपर्क करें ।

    ब्‍लाग जगत पर संस्‍कृत की कक्ष्‍या चल रही है ।

    आप भी सादर आमंत्रित हैं,
    http://sanskrit-jeevan.blogspot.com/ पर आकर हमारा मार्गदर्शन करें व अपने सुझाव दें, और अगर हमारा प्रयास पसंद आये तो हमारे फालोअर बनकर संस्‍कृत के प्रसार में अपना योगदान दें ।
    धन्‍यवाद

    ReplyDelete
  6. waao...........koi pooraani yaad dilaa dee....

    ReplyDelete
  7. हिंदी ब्लाग लेखन के लिए स्वागत और बधाई
    कृपया अन्य ब्लॉगों को भी पढें और अपनी बहुमूल्य टिप्पणियां देनें का कष्ट करें

    ReplyDelete
  8. इस नए सुंदर चिट्ठे के साथ आपका ब्‍लॉग जगत में स्‍वागत है .. नियमित लेखन के लिए शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete
  9. आपके ब्लॉग पर आकर अच्छा लगा. हिंदी लेखन को बढ़ावा देने के लिए आपका आभार. आपका ब्लॉग दिनोदिन उन्नति की ओर अग्रसर हो, आपकी लेखन विधा प्रशंसनीय है. आप हमारे ब्लॉग पर भी अवश्य पधारें, यदि हमारा प्रयास आपको पसंद आये तो "अनुसरण कर्ता" बनकर हमारा उत्साहवर्धन अवश्य करें. साथ ही अपने अमूल्य सुझावों से हमें अवगत भी कराएँ, ताकि इस मंच को हम नयी दिशा दे सकें. धन्यवाद . आपकी प्रतीक्षा में ....
    भारतीय ब्लॉग लेखक मंच
    डंके की चोट पर

    ReplyDelete